दरभंगा : पूर्व सांसद व जनसेवक राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव के रिहाई के समर्थन में यूथ इंडिया डेवलपमेंट बोर्ड ने बुधवार को राज्यव्यापी विरोध प्रदर्शन किया।

इस दौरान बोर्ड के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश यादव ने कहा कि बिहार में समाजसेवा करने की सजा यहीं है शायद ? जो आदमी खुद के जान जोखिम में डालकर बिहार के आम-आवाम के लिए जीने का कसम खा लिया हो उन्हें गिरफ्तार करना कहीं ना कहीं सरकार के ऊपर सवाल उठता है। आज बिहार के कई लोग जिन्हें पप्पू यादव जी पर भरोसा था आज वह अपने आप में अनाथ महसूस कर रहा होगा । इनके गिरफ्तारी से बिहार के कई समाजिक संगठन जिनका नीतीश कुमार दो दिन पहले ही प्रशंसा किया था अब उनके कार्यकर्ताओं को डर सा लग रहा है। ऐसे में बिहार के लाचार, मजदूर ही मरेंगे। अभी वक्त था बिहार में सभी नेता व समाजसेवियों को एकजुट होकर कोरोना जैसे महामारी से बचने का लेकिन बिहार सरकार इस तरह की राजनीति गतिविधियों में दिलचस्पी दिखाकर यह बता दिया की इन्हें जनता से ज्यादा कुर्सी प्यारी है। 

गौरतलब है कि संगठन के दर्जनों कार्यकर्ता अपने -अपने घरो में पप्पू यादव के रिहाई वाले स्लोगन तख्ती पर लिखकर रिहा करने की मांग की।

इस दौरान मुख्य रूप से बोर्ड के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मनोज ठाकुर, राष्ट्रीय संयोजक कृष्ण कुमार, संगठन विस्तार प्रभारी मनोज यादव, बेनीपुर प्रखंड अध्यक्ष संतोष कुमार, नगर प्रवक्ता रितेश रंजन, भागलपुर जिलाध्यक्ष मो. जहांगीर, मुंगेर जिलाध्यक्ष पुनम कुमारी, महिला मोर्चा के प्रदेश प्रभारी रेणु कुमारी, दरभंगा जिलाध्यक्ष विजय कुमार, मधुबनी जिलाध्यक्ष ललन कुमार, अजय कुमार, बेचन यादव आदि ने भी गिरफ्तारी की निंदा करते हुए रिहाई की मांग किया ।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here



Previous Post Next Post