Ticker

6/recent/ticker-posts

Trending

3/recent/ticker-posts

Ad Code

Responsive Advertisement

बेनीपुर अनुमंडलीय अस्पताल में वेंटिलेटर के सुचारू संचालन के लिए मुख्य सचिव को लिखा पत्र : कमल सेठ


बेनीपुर के समाजसेवी एवं MSU के सलाहकार कमल रामविनोद झा उर्फ कमल सेठ ने दरभंगा जिला के बेनीपुर अनुमंडलीय अस्पताल में टेक्नीशियन के अभाव में बंद पड़े 4 वेंटिलेटर को जनहित में सुचारू संचालन के संबंध में स्वास्थ्य विभाग के मुख्य सचिव को पत्र लिखा यह जानकारी संगठन में कार्यालय से छात्र नेता सागर नवदिया ने दिया है।

पत्र में कमल सेठ ने मुख्य सचिव से गुहार लगाते हुए कहा कि दरभंगा जिला में डीएमसीएच के बाद सबसे बड़ा सरकारी अस्पताल बेनीपुर अनुमंडल अस्पताल है.  यह क्षेत्र भौगोलिक दृष्टिकोण से भी जिला का केंद्र बिंदु माना जाता है,  यहां अस्पताल  का भवन आधारभूत संरचना बनकर वर्षों से तैयार है लेकिन प्रशासनिक लापरवाही के कारण इतने बड़े अस्पताल में आम लोगों का समुचित इलाज  नहीं हो पाता है. कोरोना महामारी के इस  विपरीत काल में जहां लोग वेंटिलेटर के लिए तरस रहे हैं, लोगों की जान वेंटिलेटर नहीं होने के कारण जा रही है, वहीं बेनीपुर अनुमंडल अस्पताल में चार वेंटिलेटर वर्षों से पड़ा हुआ है.. सर रहा है. अस्पताल प्रशासन से पूछे जाने पर टेक्नीशियन की बहाली ना होने की दुहाई दिया  जाता है. इस महामारी में लोगों को इसलिए बेनीपुर से रेफर कर दिया जाता है क्योंकि यहां वेंटिलेटर चालू नहीं है कितनों की जान रास्ते में ही खत्म हो जाती है. वेंटिलेटर नहीं चालू होने से यहां के लाखों लोगों को समस्याएं हो रही है, लोगों की जान जा रही है. लेकिन स्थानीय जनप्रतिनिधि,अस्पताल प्रशासन अनुमंडल प्रशासन जिला प्रशासन को बार-बार कहने के बाद भी वेंटिलेटर आज तक चालू नहीं हो सका है अतः उन्होंने मुख्य सचिव से आग्रह किया कि अभिलंब यहां टेक्नीशियन की बहाली एवं वेंटिलेटर चालू होने में हो रही कठिनाई को दूर किया जाए, यहां के बंद पड़े चारों वेंटिलेटर अविलम्ब चालू हो जिससे यहां के आम जनों की जान बच सके.

Reactions

Post a Comment

0 Comments

Ad Code

Responsive Advertisement