Ticker

6/recent/ticker-posts

Trending

3/recent/ticker-posts

Ad Code

Responsive Advertisement

दहेज अपराध के लिये किसी को क्षमा नहीं - दहेज मुक्त मिथिला


बीते दिनों दहेज मुक्त मिथिला के पदाधिकारियों के आह्वान पर मुम्बई में एक दहेज पीड़िता की शिकायत पर विभिन्न संस्थाओं के प्रतिनिधियों, बुद्धिजीवियों एवं समाजसेवियों को बुलाकर एक महाबैसार का आयोजन किया गया। विदित हो कि संस्था के ही एक उच्चाधिकारी के खिलाफ दहेज के लिये घर के बहू को उत्पीड़ण देकर घर से बाहर निकालने जैसी बेहद शर्मनाक घटना घटी थी, पिछले ८ महीने से बहू को घर से बाहर निकालकर छोड़ दिया गया है, जबकि इससे पूर्व तकरीबन २ वर्षों तक बहू पर उसकी पूरी कमाई घर में देने के लिये बाध्य करने के साथ-साथ उसके निजी स्वतंत्रता पर अंकुश लगाने, बात-बात में उसके चरित्र पर शंका कर पति एवं परिजनों द्वारा पीटने, घर से निकालने जैसी जघन्य अपराधिक क्रियाकलाप किया जाने का आरोप बहू द्वारा लगाया गया है। संस्था के उच्चाधिकारी पर इस तरह का आरोप के सम्बन्ध में सफाई मांगने पर बेटे की इच्छा इस बहू के साथ नहीं रहने के कारण घर में विवाद होना और अन्ततः बहू खुद घर छोड़कर जाने की बातें आरोपी धर्मानन्द झा ने कहा। परन्तु संस्था के अन्तर्राष्ट्रीय संयोजक प्रवीण नारायण चौधरी के पहल पर दोनों पक्षों से बात सुनने और समझने के बाद इनलोगों को समाज के बीच बैठकर आपसी सहमति बनाने के लिये अनुरोध करने पर आरोपी लड़का पक्ष इस महाबैसार में भाग नहीं लिया। अतः महाबैसार में उपस्थित सभी पंचों ने केवल एक पक्ष की सारी बातों को सुनकर अनुपस्थित पक्ष और उनलोगों के द्वारा समाज को नकारने की प्रवृत्ति देखते हुए आखिरकार यह फैसला किया कि ऐसे लोगों को समाज से बहिष्कृत किया जाये तथा पीड़ित लड़की पक्ष को कानून सम्मत न्याय दिलाने के लिये उनको साथ देना चाहिये। निष्कर्ष के तौर पर आरोपी धर्मानन्द झा को संस्था के सभी पद से निष्कासित करते हुए पीड़ित कन्या को आगे के संघर्ष में साथ देने का निर्णय लिया गया है।

विदित हो कि दहेज मुक्त मिथिला न सिर्फ मांगरूपी दहेज का प्रतिकार करने के लिये जनजागरण अभियान चलाती है बल्कि किसी भी प्रकार का दहेज उत्पीड़ण और महिला हिंसा के विरुद्ध टूटते परिवारों को जोड़ने के लिये सामाजिक बैठकों के मार्फत मध्यस्थकर्ता की भूमिका भी निभाती है। पिछले कुछ ही समय में ऐसे कई परिवार को बचाये जाने की बात संस्था के ब्रान्ड एम्बैसडर आर के दीपक ने बताई।
Reactions

Post a Comment

0 Comments

Ad Code

Responsive Advertisement