दरभंगा - प्रेमिका को मिला न्याय हफ्ते दिनों बाद आखिर सरिता को इंद्रजीत के परिजनों ने बहु के रूप में स्वीकार किया - BENIPUR NEWS

Breaking

Monday, 9 October 2017

दरभंगा - प्रेमिका को मिला न्याय हफ्ते दिनों बाद आखिर सरिता को इंद्रजीत के परिजनों ने बहु के रूप में स्वीकार किया

दरभंगा - प्रेमिका के जिद के आगे झुके प्रेमी के परिजनों ने सप्ताह दिन बाद सरिता को बहु के रूप में स्वीकार किया - अलीनगर 
एम राजा की रिपोर्ट
जिला के अलीनगर थाना क्षेत्र के पिरहौली गॉव में इंद्रजीत साह व सरिता कुमारी की  प्रेम कहानी सरे आम है। ज्ञात हो कि मुनेश्वर साह के पुत्र इंद्रजीत साह की प्रेम कहानी सुपौल जिला के मरौना थाना क्षेत्र के वालेश्वर चौपाल की पुत्री सरिता कुमारी से पिछले एक वर्ष पूर्व दरभंगा जिला के अलीनगर थाना क्षेत्र के धमसाईंन गॉव में एक विवाह समारोह के दरम्यान हुई। दोनो का मिलना जुलना प्रारम्भ हुआ तो वहीं दुर्गापूजा के दौरान इंद्रजीत साह सरिता कुमारी को सुपौल जिला से शादी की नीयत से अपने घर पिरहौली लेकर आया जिसको लेकर इंद्रजीत की माँ बेहद नाराज हुई व अपने पुत्र को भी सरिता से दूर रहने की हिदायत दी। उसके बाद इंद्रजीत साह सरिता कुमारी को पहचानने तक से इंकार कर दिया । रात होने लगी इंद्रजीत साह मौके से फरार हो गया इंद्रजीत की माँ उसे घर मे प्रवेश करने नही दिया तो सरिता कुमारी व गॉव के कुछलोगों ने स्थिति को देखते हुए अलीनगर थाना प्रभारी संजय कुमार सिंह को इस प्रेम कहानी की जानकारी दी। सूचना पाकर थाना प्रभारी पिरहौली पहुंचकर लड़की को तत्काल सुरक्षित स्थान पहुंचाया  लेकिन लड़की एक जिद पकड़ बैठी रही "जाऊंगी तो उसी घर बहु बन कर "  "नही तो मेरी मौत भी हो गी तो उसी घर से " और हफ़्तों बीत जाने के बाद लड़की जिद पर अड़ी रही । अन्तः सरिता कुमारी को मिला न्याय । सरिता कुमारी  के जिद के आगे झुके इंद्रजीत के परिजन । हफ्तों दिन बाद इंद्रजीत कुमार के परिजनों ने सरिता कुमारी को बहु के रूप में अलीनगर थाना परिसर में थाना प्रभारी की मौजूदगी में स्वीकार किया। मजे की बात रही कि थाना परिसर में बारातियों की संख्या सैकड़ो में रही। पूरे रश्मों रिवाज के साथ हुई शादी में गीत के साथ साथ मंत्र पढ़ाने के लिए पुरहित की भी व्यवस्था की गई थी। इस मौके पर लड़का पक्ष से लड़का के माता पिता के अलावा  पंचायत के मुखिया मनेसुर्रह्मान सरपंच लाल मोहम्मद , कुमर चौपाल  के साथ दर्जनों ग्रामीण उपस्थित रहें ज्ञात हो कि इंद्रजीत कुमार साह दो भाइयों में सबसे बड़ा है ।

"प्यार इनकार इकरार तुमसे यार हो गया "  "बल्ला बल्ला बल्ला तुमसे प्यार हो गया"  ऐसा ही एक मामला सोमवार को अलीनगर थाना परिसर में देखने को मिला जहां एक प्रेम प्रसंग के मामले में विधिवत विवाह का आयोजन थाना परिसर में  किया गया जहां विधिवत बेदी मंत्रों से विवाह कराया गया जिसके लिए पंडित के रूप में नरेश झा को अंदौली से बुलाया गया साथ ही विवाह के दौरान लड़का पक्ष की महिलाओं ने थाना परिसर में झूम-झूमकर गीत भी गई । इतना ही नहीं कन्यादान अलीनगर ग्राम निवासी राज कुमार चौपाल उर्फ कुमार चौपाल के द्वारा की गई मौके पर पूर्व पंचायत समिति सदस्य वसीम अख्तर पूर्व मुखिया रामशरण साहू मुखिया मनेसुर रहमान सरपंच लाल मोहम्मद पप्पू सिंह अनिल यादव अर्जुन यादव मसीहुद्दीन मोतीपुर रहमान रोहित कुमार बिहारी झा सहित कई गणमान्य लोग उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment