मिथिलात्मक आध्यात्म मंच ने किया संगोष्ठी का आयोजन - BENIPUR NEWS

Breaking

Monday, 29 August 2016

मिथिलात्मक आध्यात्म मंच ने किया संगोष्ठी का आयोजन


बेनीपुर ( रजनिश प्रियदर्शी ) :- बेनीपुर प्रखंड अंतर्गत नवादा भगवती स्थान में  रविवार  को मिथिलात्मक आध्यात्म मंच के द्वारा संगोष्ठी का आयोजन किया गया  संगोष्ठी की अध्यक्षता द्कासिसंविवि के पूर्व कुलपति देवनारायण झा ने किया । सभा को सम्बोधित करते हुए डॉ सुरेन्द्र मोहन झा ने कहा की मिथिलांचल का संस्कार दूषित होने के कारण मिथिला की संस्कृति नष्ट होती जा रही है । जिसका मूल कारण पश्चमी सभ्यता को अपनाना है । अन्य प्रान्तों के तुलना में मिथिलांचल अधिक प्रभावित और प्रदूषित हो रहा है । लोग कोजगरा म्धुस्रावनी को त्रिस्कृत कर हनीमून मनाना आवश्यक समझने लगे हैं । मनुष्य में मानवता का घोर आभाव हो गया है । यही कारण है की लोगों में उठने बैठने, बात-चित का तौर-तरीका नहीं रहा । पूर्व कुलपति देवनारायण झा ने आपना बात रखते हुए कहा की भाषा को बचाने से संस्कार और पर्यावरण बचेगा । उन्होंने मानवता, पर्यावरण और संस्कृति को बचाने के लिए मंच से संकल्प लेने का आवाहन किया । संगोष्टि में और भी गणमान्य लोग उपस्थित थे । प्रखंड प्रमुख मनोज मिश्र, एम्आरएम् कॉलेज के प्राचार्य डॉ विद्यानंद झा, डॉ प्रभाकर पाठक, विश्वनाथ झा, पंडित किरणजी, सुरेन्द्र झा, विष्णुदेव पासवान, डॉ ग्रिन्द्रमोहन झा सहित कई विद्वानों ने अपने-अपने बात रखें एवं मिथिलात्मक आध्यात्म मंच को मजबूत बनाकर मिथिला की संस्कृति को बचाने का संकल्प किया । अंत में संयोजक रामानन्द झा ने धन्यवाद् ज्ञापन कर सभा का समापन किया 

No comments:

Post a Comment